Tuesday, January 25, 2022
होम पलवल ठंड में खुले आसमान के नीचे सोने से बचाव हेतु किया जा रहा है रैन बसेरों का संचालन : उपायुक्त

ठंड में खुले आसमान के नीचे सोने से बचाव हेतु किया जा रहा है रैन बसेरों का संचालन : उपायुक्त

citykhabre | 25-12-2021 17:00

पलवल: उपायुक्त कृष्ण कुमार ने बताया कि राजस्व एवं आपदा प्रबंधन विभाग के दिशा-निर्देशानुसार जिला रैडक्रॉस सोसाइटी पलवल की टीम गत दिवस को सुशासन सप्ताह समारोह के अंतर्गत रात्रि के समय बस अड्डा, रेलवे स्टेशन पलवल, अनाज मंडी, सरकारी अस्पताल, बाजार में घूमे जहां बस अड्डा पर पाया कि अलीगढ़ के 09 व्यक्ति जिन्हें महम, रोहतक, लखनऊ के परिवार जिन्हें दिल्ली तथा आगरा का परिवार फरीदाबाद से एटा मैनपुरी जाना था, लेकिन साधन न होने के कारण उन्हें जाट धर्मशाला तथा बस अड्डा में बनाए गए रैन बसेरे में सोने के लिए प्ररित किया। इस मौके पर टीम की इंचार्ज नीतू सिंह ने बताया कि सचिव वाजिद अली के निर्देश अनुसार जनहित में इस कार्य को करने में डा. विनोद जिंदल, जयश्री जिंदल, दिनेश कुमार, शिव कुमार, अशोक कुमार, रवि कुमार, हरबंश आदि सभी सदस्यों को खुशी मिली।

टीम के सभी सदस्यों ने आर.पी.एफ. पलवल के एस.एच.ओ. बलवान सिंह से अपील भी की कोई भी स्टेशन पर सोने आए तो उन्हें रैन बसेरों में भेजें। जिला रैडक्रॉस सोसाइटी से सचिव वाजिद अली ने सभी जिलाधिकारियों, सामाजिक संस्थाओं के सदस्यों, रैडक्रॉस के सदस्यों से अपील की कि कोई भी खुले आसमान के नीचे सोने को मजबूर न हो। अगर कोई भी इंसान खुले आसमान के नीचे रात्रि गुजारता मिले तो उसे संस्था द्वारा बस अड्डा पलवल, जाट धर्मशाला, ब्राह्मण धर्मशाला, श्रीराम मंदिर हथीन, श्री वैश्य अग्रवाल धर्मशाला होडल, उपकार मंडल संस्था कार्यालय हसनपुर में से अपने नजदीकी संचालित अस्थाई रैन बसेरों में सोने के लिए प्रेरित करते हुए भेजने का कष्ट करें।

जिला प्रशिक्षण अधिकारी महेश मलिक ने जानकारी दी कि 5 से 24 दिसंबर 2021 तक रैन बसेरा बस अड्डा पर 301, जाट धर्मशाला में 45, ब्राह्मण धर्मशाला में 12, उपकार मंडल हसनपुर में 03 बेघर एवं अन्य जरूरतमंदों ने रात्रि में आश्रय पाया है।